Pages

Tuesday, February 5, 2008

फैशन जगत में अब इको फ्रैंडली कपड़े

फैशन जगत में अब इको फ्रैंडली कपड़ों का दबदबा बढ़ने लगा है। दुनिया भर के फैशन डिजाइनरों का ध्यान अब इको फ्रैंडली कपड़ों की ओर लगा है। लॉस एंजिल्स से लेकर टोरंटो तक आयोजित फैशन शो में इको फ्रैंडली कपड़ों का प्रदर्शन जोर-शोर से किया जा रहा है। पिछले साल लॉस एंजिल्स में आयोजित मर्सिडिज बेंज फैशन वीक के दौरान पर्यावरण हितैषी कपड़ों का बोलबाला रहा। इसमें भाग लेने वाले तमाम फैशन डिजाइनर्स ने अपने लेटेस्ट ट्रेंड में इको फ्रैंडली कपड़ों पर जोर दिया।

फैशन डिजाइनरों का कहना है कि ऐसे कपड़े न सिर्फ पर्यावरण संरक्षण में मददगार होते हैं, बल्कि सेक्सी लुक भी देते हैं। इस फैशन शो की थीम भी 'द ग्रीन इनिशिएटिव' रखी गई थी। कनाडा के एक फैशन मॉल में भी इन दिनों ग्रीन फैशन का बोलबाला है। सभी बड़े फैशन मॉल में सिंथेटिक कपड़ों की जगह पर्यावरण संरक्षण को बढ़ावा देने वाले कपड़े नजर आ रहे हैं।

फैशन डिजाइनर और स्टोर मालिक भी लोगों की भारी माँग को पूरा करने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं। इसी को ध्यान में रखते हुए तमाम फेब्रिक कंपनियों ने वर्ष 2008 के लिए नई स्टाइल और लुक वाले कपड़े और उनके साथ की एक्सेसरीज लांच करने की तैयारी पूरी कर ली है। इनमें कपड़ों के मटेरियल से लेकर रंगों तक में जैविक पदार्थों का इस्तेमाल किया गया है।

ऑर्गनिक ट्रेड एसोसिएशन (ओटीए) का कहना है कि आगामी तीन वर्षों में जैविक कपड़ों के बाजार में जबर्दस्त उछाल आने की संभावना है। वर्ष 2006 की ही बात करें तो इस वर्ष 2005 की तुलना में अमेरिका में 160 मिलियन डॉलर का मुनाफा हुआ। एसोसिएशन ने अनुमान लगाया है कि जैविक कपड़ों का बाजार आगामी तीन वर्षों में 116 फीसदी प्रतिवर्ष की रफ्तार से बढ़ेगा।

टोरंटो की फैशन डिजाइनर एनी थॉम्पसन कहती हैं कि इको फ्रैंडली कपड़ों का बाजार गर्म हो रहा है। लोगों में पर्यावरण संरक्षण के प्रति जागरूकता बढ़ रही है, ऐसे में इको फ्रैंडली कपड़ों की रेंज लोगों को काफी पसंद आ रही है। एनी ने अपनी नई रेंज तैयार करने में केमिकल का अत्यंत कम उपयोग किया है। उन्होंने ज्यादातर बाँस, वाइल्ड सिल्क, फूलों के फर, सोया और अन्य जैविक पदार्थों का इस्तेमाल किया है। उनका यह कलेक्शन संभवतः अगले महीने तक बाजार में छा जाएगा।

1 comment :

दिनेशराय द्विवेदी said...

काशः हर चीज इको फ्रेण्डली हो।

Post a Comment

पर्यानाद् आपको कैसा लगा अवश्‍य बताएं. आपके सुझावों का स्‍वागत है. धन्‍यवाद्