Pages

Saturday, February 2, 2008

दुनिया के सबसे नए प्राणी की खोज

वैज्ञानिकों ने तंज़ानिया के पहाड़ियों में एक नए स्तनधारी जीव की खोज की है जो चूहे की शक्ल का है. इस नए अनोखे प्राणी को 'रिनोकोस्यॉन उडज़ुंग्वेंसिस' नाम दिया गया है. इसे अफ़्रीका में पाए जाने वाले चूहे जैसे प्राणी 'एलिफैंट श्रियू' की ही एक नस्ल माना जा रहा है जिसके पैर लंबे होते हैं और जिसका मुँह निकला हुआ होता है.

'ज़ूलॉजी' पत्रिका में इस प्राणी की खोज की ख़बर छापी गई है. बिल्ली के आकार के इस जीव को छोटे हिरन और चींटी खाने वाले दंतविहीन प्राणियों के बीच की संकर प्रजाति माना जा रहा है. इसका चेहरा स्लेटी रंग का और थूथन लंबा और लचकदार है. पीले और भूरे रंग वाले इस जीव की टांगें नुकीली हैं.


शोध की पुष्टि करने वाले कैलीफोर्निया अकादमी ऑफ साइंस के डॉक्टर ग्लेन रथबन ने कहा, “यह मेरे अब तक के करियर की सबसे रोमांचक खोजों में से एक है. एलिफैंट श्रियू केवल अफ़्रीका में पाए जाते हैं. ये नाम इसलिए रखा गया क्योंकि इनका ऊपरी हिस्सा अमरीका और यूरोप के श्रियू से मिलता जुलता है." वास्तव में इस प्राणी का संबंध दस करोड़ साल पहले के अफ़्रीकी स्तनधारियों के समूह से माना जा रहा है.

इस नई प्रजाति को सबसे पहले वर्ष 2005 में तंज़ानिया में डुंडुलु जंगलों की उडज़ुंगवा पहाड़ियों पर फ़िल्माए दृश्यों में देखा गया था. ये फ़िल्म इटली में ट्रेन्टो म्युज़ियम ऑफ नेचुरल साइंस के फ़्रैंसेस्को रोवरो ने बनाई थी. डॉक्टर रथबन ने कहा, “जब मैंने ये तस्वीरे देखी तो मुझे सब नया लगा लेकिन केवल तस्वीरों के आधार पर कुछ कहना मुमकिन नहीं था. फिर मार्च 2006 में हम वहाँ दोबारा गए और कुछ नमूने लिए.”


वैज्ञानिकों का कहना है अभी रिनोकोस्यॉन उडज़ुंग्वेंसिस नामक इस प्राणी के बारे में काफ़ी कुछ जानना बाक़ी है लेकिन उनका मानना है कि आगे शोध में इस तरह के जानवरों और उनके रहन-सहन के बारे में जानने को मिलेगा. तंज़ानिया की उडज़ुंगवा पहाड़ियों में जैव विविधता से भरी पड़ी है. इस नई प्रजाति के अलांवा बंदर की नई प्रजाति किपुंजी भी वहीं पाई गई थी.

बीबीसी हिंदी डॉट कॉम से साभार

No comments :

Post a Comment

पर्यानाद् आपको कैसा लगा अवश्‍य बताएं. आपके सुझावों का स्‍वागत है. धन्‍यवाद्