Pages

Friday, February 22, 2008

विश्व के 24 शहरों में होगा ब्लैक आउट

ग्लोबल वार्मिग के प्रति जागरूकता अभियान चलाने के लिए अर्थ आवर कार्यक्रम के तहत विश्व के 24 शहरों में अगले महीने बत्तियां बुझाकर अंधेरा कर दिया जाएगा। अर्थ आवर पहल पिछले साल ऑस्ट्रेलिया के सबसे बड़े शहर सिडनी से शुरू हुई थी। वहां के लगभग 22 लाख लोगों ने चांदनी रोशनी से नहाए सिडनी ऑपेरा हाउस को छोड़कर अपने-अपने घरों, प्रतिष्ठानों तथा हार्बर ब्रिज की बत्तियां बुझाकर उन्हें अंधेरे में डुबो दिया था।

ग्रीन हाउस गैसों में कटौती करे भारत-चीन: दूसरी ओर अनुमान से कहीं तेज रफ्तार से बढ़ रहे वैश्विक तापमान और जलवायु परिवर्तन के दुष्प्रभावों से निबटने की मुहिम के तहत चीन और भारत जैसे विकासशील देशों से ग्रीन हाउस गैसों के उत्सर्जन में कटौती के लिए सख्त और प्रभावी कदम उठाने की अपील की गई है। जलवायु परिवर्तन पर आस्ट्रेलिया की राजधानी कैनबरा में जारी एक रिपोर्ट में यह बात कही गई है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि इसके खतरे तेजी से बढ़ रहे हैं। ऐसे में इससे निबटने के लिए वर्ष 2020 तकनिर्धारित लक्ष्य हासिल करने के लिए ग्रीन हाउस गैसों में कटौती के लिए और सख्त कदम उठाने होंगे। आस्ट्रेलिया के शीर्ष पर्यावरण सलाहकार रास गारनाट के अनुसार इस दिशा में तेजी से बढ़ने की जरूरत है। आस्ट्रेलिया समेत भारत और चीन जैसे विकासशील देशों को इसमें सक्रिय भूमिका निभानी होगी।
रिपोर्ट के अनुसार जलवायु परिवर्तन पर संयुक्त राष्ट्र के अंतरराष्ट्रीय पैनल की ओर से अब तक जारी आंकलन रिपोर्ट के आंकड़े पुराने हो चुके हैं। इसमें जलवायु परिवर्तन की जो रफ्तार दर्शाई गई है वह उससे कहीं तेजी से बढ़ रहा है इसलिए इसके लिए सुझाए गए उपायों में और सख्ती लानी है। रिपोर्ट में कार्बन कटौती के लिए दो स्तरीय सुझाव दिए गए हैं जिसके अनुसार पहले स्तर पर ये उपाय क्षेत्रीय और राष्ट्रीय स्तर पर होने हैं जबकि दूसरे स्तर पर यह अंतरराष्ट्रीय स्तर पर होने हैं जिसमें आस्ट्रेलिया, भारत और चीन जैसे देशों को अहम भूमिका निभानी है।

1 comment :

अविनाश वाचस्पति said...

बिल्कुल सही कह कर रहे हैं मित्र
नाद महानाद से विश्वनाद बने
सही नसीहतों में विश्व ढले
सार्थक होगा सब कुछ अब कुछ्

Post a Comment

पर्यानाद् आपको कैसा लगा अवश्‍य बताएं. आपके सुझावों का स्‍वागत है. धन्‍यवाद्